PleaseSubscribe our YouTube ChannelSubscribe

भारत का संविधान





हम भारत के लोग, भारत को एक सम्पूर्ण प्रभुत्व सम्पन्न
समाजवादी , पंथनिरपेक्ष,लोकतंत्रात्मक गणराज्य 
बनाने के लिए तथा उसके समस्त नागरिकों को :
           सामाजिक, आर्थिक और राजनीतिक न्याय,
           विचार, अभिव्यक्ति, विश्वास, धर्म 
          और उपासना की स्वतंत्रता
          प्रतिष्ठा और अवसर की समता 
          प्राप्त करने के लिए
          तथा उन सब में व्यक्ति की गरिमा और
          राष्ट्र की एकता और अखण्डता 
         सुनिश्चित करनेवाली बंधुता बढ़ाने के लिए
दृढ संकल्प होकर अपनी इस संविधान सभा में आज 
तारीख 26 नवम्बर 1949 ई0 (मिति मार्ग शीर्ष शुक्ल 
सप्तमी, सम्वत् दो हजार छह विक्रमी) को एतदद्वारा
इस संविधान को अंगीकृत, अधिनियमित और 
आत्मार्पित करते हैं।